T20 क्रिकेट इतिहास

Spread the love

T20 क्रिकेट इतिहास – शुरुआत, संकल्पना, T20 लीग

t20 क्रिकेट क्रिकेट का सबसे छोटा प्रारूप है। इसमें कुल 40 और का मैच होता है और एक टीम 20 और खेलती है। क्रिकेट की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद द्वारा यह कदम उठाया गया था।

टी20 क्रिकेट की शुरुआत –


विश्व में क्रिकेट खेल की शुरुआत सबसे पहले इंग्लैंड में हुई थी। उसी के बाद समय के साथ यह खेल विश्व के अलग – अलग हिस्सों में फैलता चला गया। आज विश्व के सबसे लोकप्रिय खेलों में क्रिकेट शामिल है। 

संकल्पना

सबसे पहले T20 क्रिकेट की परिकल्पना इंग्लैंड में हुई थी। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के पूर्व Marketing Manager रहे Stuart Robertson ने 2001 में सबसे पहले 20 – 20 ओवर वाले क्रिकेट का प्रस्ताव रखा। इस प्रस्ताव को क्रिकेट बोर्ड के सदस्यों ने 7 के मुकाबले 11 मतों से स्वीकार किया। इसके बाद t20 क्रिकेट को लागू करने की जुगत होने लगी।
इसी के बाद 2002 में इंग्लैंड में खेले जाने वाले Benson & Hedges Cup के खत्म हो जाने के बाद उसके स्थान पर ऐसे टूर्नामेंट को लाने का फैसला किया गया जो कि आसानी से दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित कर सकता था। इसी के बाद 20 – 20 क्रिकेट की शुरुआत हुई। इसके बाद आधिकारिक रूप से First Class क्रिकेट में पहली बार T-20 मैच इंग्लैंड के काउंटी टूर्नामेंट Twenty20 Cup में खेला गया।

T20 क्रिकेट को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले ले जाने के कयास –
Twenty20 Cup का पहला संस्करण काफी सफल रहा। इसके साथ ही विश्व के कई अन्य देशों में इसी तर्ज पर क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया जाने लगा। इसके बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में भी 20 – 20 क्रिकेट का आगमन हो गया। पहला अंतर्राष्ट्रीय T20 मैच इंग्लैंड तथा न्यूज़ीलैंड की महिला क्रिकेट टीम द्वारा 5 अगस्त 2004 को खेला गया था। इस मुकाबले में न्यूजीलैंड महिला क्रिकेट टीम 9 रनों से जीत दर्ज करने में सफल रही।

पुरुषों के बीच पहला अंतराष्ट्रीय T20 मुकाबला 17 फरवरी 2005 को न्यूज़ीलैंड तथा ऑस्ट्रेलिया में खेला गया था। ऑस्ट्रेलिया Auckland के Eden Park में हुए इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने न्यूज़ीलैंड को हराते हुए अंतराष्ट्रीय t20 में जीत दर्ज करने वाली पहली टीम बनी थी।

क्रिकेट की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए T20 विश्वकप का आयोजन –


सन 2007 में वेस्टइंडीज में आयोजित किए गए एकदिवसीय क्रिकेट विश्व कप आईसीसी को भारी नुकसान उठाना पड़ा, क्योंकि क्रिकेट की लोकप्रियता का दारोमदार निर्भरता वह भारत और पाकिस्तान पहले चरण में ही स्पर्धा से बाहर हो गए थे इसके कारण दर्शक की भी कमी दिखने लगी थी। इस कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद को क्रिकेट की घटती लोकप्रियता की चिंता सता रही थी।
T20 क्रिकेट की बढ़ती लोकप्रियता के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद  क्रिकेट की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए टी-20 विश्वकप आयोजन करने का मन बना लिया।  इसके उपरांत अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने टी-20 विश्वकप का आयोजन साउथ अफ्रीका में करने का निर्णय लिया और इसको WORLD T20 यह नाम दे दिया।

भारतीय क्रिकेट नियामक मंडल की संदिग्धावस्था –

शुरुआत में भारतीय क्रिकेट नियामक मंडल (बीसीसीआई) टी20 क्रिकेट खेलने के पक्ष में नहीं था। भारत के कुछ दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी  सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सौरभ  गांगुली आदि ने टी-20 क्रिकेट खेलने से मना कर दिया था। इसलिए भारतीय क्रिकेट नियामक बोर्ड ने कुछ नए चेहरों के साथ महेंद्र सिंह धोनी को टी-20 क्रिकेट टीम की कप्तानी दे दी और 2007 के t20 विश्वकप साउथ अफ्रीका में होने वाले श्रंखला में टीम भेज दी।

पहले टी-20 विश्वकप की अपार सफलता



पहले टी-20 विश्वकप  क्रिकेट को सफलता का नया सुरज दिखाया और इसका नतीजा यह हुआं की 2007 एकदिवसीय विश्व कप क्रिकेट कारण आईसीसी को जो नुकसान हुआ ,जो मायुसी आती थी वह इस अपार सफलता के कारण मिट गई।
भारतीय क्रिकेट टीम महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में खरी उतरी और भारत विश्व किकेट को पहीला विजेता मिल गया।

विजेता बनने से भारत टि20 किक्रेट लिए बना घर

पहले टि20 विश्व कप मिले भारी सफलता के बाद भारत टि20 किक्रेट गतिविधियों ने जोर पकड़ा –

T20 लीग की स्थापना


भारत में IPL और ICL ऐसे दो क्रिकेट लीग की स्थापना की गई। ICL कुछ दिनों बाद बंद पड गई।

IPL को भारी सफलता मिली और उसके अभी तक 12 संस्करण सफलतापूर्वक संपन्न हुऐ। आईपीएल का सारांश इस लिंक पर जाये
http://www.naimish.co.in/2020/04/08/%e0%a4%87%e0%a4%82%e0%a4%a1%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%a8-%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80%e0%a4%ae%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%b0-%e0%a4%b2%e0%a5%80%e0%a4%97-ipl-2008-%e0%a4%b8%e0%a5%87-2019/

आईपीएल को मिली भारी सफलता के बाद बाकी अन्य देशों में भी t20 लीग का आयोजन होने उनमें से कुछ देश और उनके t20लीग के नाम इस तरह है।

ऑस्ट्रेलिया – बिग बैश लीग (BBL)
वेस्टइंडीज – कैरेबियन प्रीमियर लीग (CPL)
बांग्लादेश – बांग्लादेश प्रीमीयर लीग (BPL)
इंग्लैंड – t20 ब्लास्ट
पाकिस्तान पाकिस्तान सुपर लीग (PSL)

विश्वकप टी20 क्रिकेट का सारांश


t20 विश्वकप के अभी तक 6 संस्करण के लिए जा चुके हैं। जिसमें वेस्टइंडीज 2 बार चैंपियन बना। भारत, श्रीलंका, पाकिस्तान और इंग्लैंड ने एक-एक बार टी20 विश्व कप जीता है।
2007 – साउथ अफ्रीका में खेले गए टी20 विश्व कप के पहले संस्करण में भारत ने पाकिस्तान को हराकर चैंपियन बना था।

2009 – t20 विश्वकप का दूसरा संस्करण इंग्लैंड में खेला गया था जिसमें पाकिस्तान श्रीलंका को हराकर चैंपियन बना था।

2010 – सन् 2010 में वेस्टइंडीज मे खेले गए तीसरे संस्करण के फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने आस्ट्रेलिया को हराया था।

2012 – श्रीलंका में गए चौथे संस्करण में फायनल वेस्टइंडीज ने मेजबान श्रीलंका को हराया था।

2014  – बांग्लादेश की मेजबानी खेले गए पांचवें संस्करण में श्रीलंका फाइनल में भारत को हराकर विजेता बनीं थीं।

2016 – भारत में खेले गए छ्ठे संस्करण मे फाइनल में वेस्टइंडीज इंग्लैंड को मात देकर दुसरी बार विजेता बना था।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *