टेस्ट क्रिकेट इतिहास का सबसे रोमांचकारी ड्रा मैच

Spread the love
भारत बनाम साउथ अफ्रीका पहला टेस्ट मैच 2013

वह टेस्ट क्रिकेट मैच था जब भारत 2013 में साउथ अफ्रीका दौरे पर गया था।
इस सीरीज पहला टेस्ट क्रिकेट मैच साउथ अफ्रीका के जोहांसबर्ग मे 18 से 22 दिसंबर 2013 दौरान वांडरर्स स्टेडियम पर खेला गया था।


भारत ने टॉस जीतकर प्रथम बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया और पहली पारी में 10 विकेट खोकर 280 रन बनाए।


जवाब में मेजबान साउथ अफ्रीका टीम ने 244 रन 10 विकेट के नुकसान पर बनाया और भारत को 36 रन की बढ़त मिल गई।


अपनी दूसरी पारी में भारत ने चेतेश्वर पुजारा की शानदार 153 रन और विराट कोहली के 96 रन के बलबूते पर 421 रन का और खड़ा किया और साउथ अफ्रीका के सामने 458 रन का जीत का लक्ष्य रखा।


458 रन के विशाल स्कोर का पीछा करते हुए साउथ अफ्रीका की टीम की एक समय स्थिति 197 रन पर चार विकेट थी। लक्ष्य हासिल करना लगभग मुश्किल लग रहा था लेकिन बाप डु प्लेसेस और कप्तान एबी डिलीवर्स के शानदार शतक की बदौलत साउथ अफ्रीका टीम एक मजबूत स्थिति में पहुंच गई और लक्ष्य उनके बहुत करीब था।
साउथ अफ्रीका कि जब 400 रन बोर्ड पर लगे थे तब उनके चार विकेट गंवा चुके थे और एबी डी विलियर्स और फाफ डू प्लेसिस सामने थे जो मैच पर अपनी पकड़ बनाए हुए थे और साउथ अफ्रीका अपने लक्ष्य के सिर्फ 58 रन दूर था।
लेकिन इशांत शर्मा के एक जादुई बॉल ने कप्तान एबी डिलीवर को क्लीन बोल्ड किया और पवेलियन में चलता किया, जब टीम का स्कोर 402 था।
407 के स्कोर पर जिन पॉल डुमनी पवेलियन लौट गए। फफ डू प्लेसिस एक तरफ मोर्चा संभाले हुए थे और उन्होंने टीम का कोर 442 पर पहुंचाया, जब साउथ अफ्रीका ने लक्ष से और इतिहास के सबसे बड़े लक्ष से सिर्फ 16 रन दूर था। मैदान पर वर्णन फिलैंडर और डेल स्टेन नए से नए बल्लेबाज मौजूद थे और खेल समाप्त होने में 18 गेंदे शेष थी। डेल स्टेन और फिलेंडर चाहते तो इतने रन बनाना उनके लिए मुश्किल नहीं था लेकिन जोखिम भी थे अगर इनमें से एक भी कोई आउट हो जाता तो आने वाले बल्लेबाज मॉर्न मोरकल जख्मी थे और इमरान ताहिर पर भरोसा नहीं किया जा सकता था।
इसीलिए क्रीज पर मौजूद फिलेंडर और डेल स्टेन ने समझदारी से हुए खेल दिखाते हुये बच्चों की गेंदों का सामना किया और मैच जो साउथ अफ्रीका के पक्ष में था उसे ड्रॉ करवाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *